Sanskritbhashi संस्कृतभाषी

उत्तर प्रदेश में वेद अध्ययन के केन्द्र

वेद की हजारों वर्षों से चली आ रही वाचिक परम्परा को संरक्षित करने तथा भारतीय संस्कृति को जीवन्त बनाये रखने के उद्येश्य से उत्तर प्रदेश में वेदों के विविध...
clicks 5  Vote 0 Vote  9:20pm 25 Jul 2017

उत्तर प्रदेश के संस्कृत महाविद्यालय

यहाँ आपके अवलोकनार्थ उत्तर प्रदेश में स्थित संस्कृत महाविद्यालयों की सूची उपलब्ध है। इस सूची में यदि किसी प्रकार की त्रुटि हो अथवा आदर्श महाविद्यालय क...
clicks 0  Vote 0 Vote  9:53pm 24 Jul 2017

संस्कृत अध्ययन के लिए उपयोगी वेबसाइट

1. इस वेबसाइट पर आपको मार्गदर्शिकाएं, धर्म , शब्दकोश, कविता, नाटक आदि विषय पर संस्कृत की ई- पुस्तकें मिलेगी।                   http://www.sanskritebooks.org/     इस पेज पर और भी उपयोग...
clicks 16  Vote 0 Vote  5:14pm 17 Jul 2017

गुरु पूर्णिमा- ज्ञान तथा अनुशासन का पर्व

महर्षि व्यास के जन्म दिन आषाढ़ शुक्ल पूर्णिमा को मनाया जाने वाला यह गुरु पूर्णिमा पर्व हिन्दुओं के लिए जितना महत्व पूर्ण है, उतना ही बौद्धों और सिखों के ...
clicks 8  Vote 0 Vote  1:24pm 9 Jul 2017

अन्धकार से प्रकाश की ओर ले जाने वाला

गुरु शब्द संज्ञा और विशेषण दोनों रूपों में प्रयुक्त होता है। विशेषण के रूप में गुरु शब्द का अर्थ होता है, भारी, महान् अथवा विशेष। वाराणसी में लोग एक दुसरे...
clicks 22  Vote 0 Vote  1:24pm 9 Jul 2017

योग की महायात्रा

       योग की यात्रा उपनिषदों से शुरु होकर बौद्ध, जैन, तन्त्रागम, संहिता होते हुए गीता में पूर्ण होती है। इससे सिद्ध है कि योग के अनेक पथ परन्तु एक लक्ष्य है।...
clicks 16  Vote 0 Vote  9:11am 18 Jun 2017

उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान, लखनऊ वर्ष 2017 का पुरस्कार विज्ञापन

संस्कृतभाषी ब्लाग पर आपका स्वागत है। इस ब्लाग में संस्कृत से जुड़े विभिन्न विषयों पर लेख उपलब्ध हैं। लेखों को पढने तथा सुझाव देने के लिए आप सादर आमंत्रि...
clicks 11  Vote 0 Vote  6:20pm 16 Jun 2017

संस्कृत काव्यशास्त्रकारों की सूची एवं परिचय

    काव्यशास्त्र एक प्राचीन शास्त्र है।, जिसे काव्यालंकार, अलंकारशास्त्र, साहित्यशास्त्र और क्रियाकल्प के नाम से अभिहित किया जाता है। वैदिक ऋचाओं में क...
clicks 12  Vote 0 Vote  11:15pm 15 Jun 2017

अभिनवगुप्त और उनकी कृतियाँ

       भारत में जब-जब कश्मीर की चर्चा होगी, परममाहेश्वर शैवाचार्य अभिनवगुप्त याद आते रहेंगे। इनके पिता का नाम नरसिंहगुप्त तथा माता का नाम विमलकला था। उत्...
clicks 28  Vote 0 Vote  1:34pm 15 Jun 2017

संस्कृत में संख्यावाचक शब्द के प्रयोग

स्मरणीय तथ्य संख्याओं का वचन निर्धारण 1  1.    एक शब्द नित्य एकवचनान्त होते हैं। परन्तु जब इसका संख्या के अतिरिक्त अन्य अर्थ में प्रयोग होता है, तब इसका द्...
clicks 16  Vote 0 Vote  11:18am 8 Jun 2017
[ Prev Page ] [ Next Page ]
 
CONTACT US ADVERTISE T&C

Copyright © 2009-2013