कविता संकलन

हर शाम ये सूरज ढलता है..

हर शाम ये सूरज ढलता हैजाते हुए लम्हों से नजाने आखिर तू क्यों लड़ता हैसाथ तेरे पास तेरेकुछ नहीं रह जायेगासूरज की तरह एक दिन तू भी ढल जाएगा रात में,आका...
clicks 21  Vote 0 Vote  11:32pm 19 Aug 2019

अच्छा लगता है...

अच्छा लगता है वो तितलियों काउड़ना।अच्छा लगता हैवो फूलों कामहकना।।अच्छा लगता है वो चिड़ियों का चहकना।अच्छा लगता है वो हवा काबहकना।।अच्छा लगता ...
clicks 59  Vote 0 Vote  10:10am 15 May 2019

भारत की वो शान अटल है।।

रात अटल है,दिन अटल है,ये सूरज - ये चांदअटल है।।पशु अटल है,पंछी अटल है,हरियाला ये जंगलअटल है।।पर्वत अटल है,मैदान अटल है,ये धरती, ये आकाशअटल है।।पानी अटल है,आ...
clicks 95  Vote 0 Vote  3:20pm 17 Aug 2018

रहेगा मेरा हिन्दुस्तान सबसे आगे

एक ऐसा भारत हो,जहां आपस  में ना भेद हो।प्रेम के प्रति प्रेम हो।जहां हर तरफ हरियाली हो,वातावरण में फैली खुशहाली हो।।हर जनजाति का सम्मान हो,पशु-पक्षियों ...
clicks 53  Vote 0 Vote  11:27pm 15 Aug 2018

सूरज दादा शान्त हो जाओ

ऐसे ही हमसे झगड़े।सूरज दादा क्यों हो भड़के।।इस बार की गर्मी में।सूरज दादा गुस्से में।।कम करो अब ये गर्मी।सूरज दादा दिखाओ थोड़ी नरमी।।मन करे तो कुल्फी खा...
clicks 185  Vote 0 Vote  9:55pm 11 Jun 2014

विश्व वानिकी दिवस ( 21 मार्च ) पर विशेष :- प्रकृति की धरोहर।

बात पते की अब बताता। बदले में सबको समझाता।।गौर से सुनना मेरी बात को। सीखना और समझाना औरों को।।प्रकृति की धरोहर यूँ न नष्ट करो।पेड़ो को काटना अब बं...
clicks 179  Vote 0 Vote  7:28pm 22 Mar 2014

विश्व गौरैया दिवस :- गौरैया प्यारी।

पहले उड़ती - फिरती थी,ये हर डाली - डाली। कौन - थी ये चिड़िया प्यारी ?क्या नाम है इसका,जरा - पूछो भईया ?अरे ये चिड़िया है - गौरैया।।पहले दिखती थी ये,हर - घर आँगन में...
clicks 187  Vote 0 Vote  10:50pm 20 Mar 2014

देखो आई ऋतुराज बसन्त निराली

पतझड़ का मौसम छाया,बसन्त का महीना आया।।तेज हवा चली रूहानी,खिली धूप सुहानी।।बगिया में आई तितली रानी,भौरों कि भी अलग कहानी।।फूल खिले हर डाली-डाली,रूत भी है ...
clicks 219  Vote 0 Vote  4:28pm 4 Feb 2014

प्रकृति की कहानी

बात बड़ी है पुरानी,थी प्रकृति की भी कहानी।आज आपको भी है सुनानी,एक ज़माने में प्रकृति थी रानी।इस धरती पर उसका राज था,मानव पर उसे बड़ा विश्वास था। परन्तु ...
clicks 206  Vote 0 Vote  9:30pm 12 Dec 2013

फूल खिले है डाली - डाली

चित्र साभार : yashvardhan09.blogspot.inफूल खिले है डाली - डाली ।रुत है ये मतवाली ।।ये भी कहते कुछ गाकर ।हँसते - रोते मुस्कुराकर ।।कहते ये होकर दुखी ।हमे मत तोड़ो कभी ।।मत ...
clicks 269  Vote 0 Vote  4:42pm 7 Jul 2013
[ Prev Page ] [ Next Page ]
 
CONTACT US ADVERTISE T&C [ FULL SITE ]

Copyright © 20018-2019