गुनगुनाती धूप...Gungunati Dhuup

दिल लगाकर हम ये समझे : फिल्म -ज़िन्दगी और मौत (१९६५)

Movie: Zindagi Aur Maut (1965)Music Director: Chitalkar Ramchandra ;Original Singer: Asha Bhoslelyricist: Shakeel Badayuni.Cover sung by Alpana Verma=============================दिल लगाकर हम ये समझे ज़िन्दगी क्या चीज़ है-2इश्क कहते हैं किसे और .आशिकी क्या चीज़ है...
clicks 34  Vote 0 Vote  2:26pm 18 Apr 2018

हमसफर मेरे हमसफर, पंख तुम परवाज़ हम(पूर्णिमा)

फिल्म : पूर्णिमा (1965)गीत : गुलज़ार संगीत : ??? शंकर -जयकिशन /सलील चौधरी ?/लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल?(*अंतर्जाल पर इस गीत के संगीतकार का नाम अलग -अलग  लिखा हुआ है)मूल...
clicks 58  Vote 0 Vote  1:00pm 16 Apr 2018

ज़रा सामने तो आओ छलिये.....(जनम-जनम के फेरे)

Movie: Janam Janam Ke Phere[1957 ]Music Director: S.N. Tripathi ,    Lyrics by Bharat VyasDirector: Manoo DesaiOriginal Singers: Mohd Rafi sb & Lata ji.Cover has sung by  Safeer & Alpanaयह गीत सन १९५७ में बिनाका गीतमाला में पहले पायदान पर रहा था.प्रस्तुत है य...
clicks 48  Vote 0 Vote  1:22am 14 Apr 2018

रोज़ शाम आती थी ..

फ़िल्म: इम्तिहान (1974)संगीतकार: लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल गीतकार: मजरूह सुल्तानपुरीOriginal गायिका: लता मंगेशकरCover Sung by Alpana Verma रोज़ शाम आती थी, मगर ऐसी न थीरोज़- रोज...
clicks 39  Vote 0 Vote  11:29pm 8 Apr 2018

Apne aap raaton mei -Cover song

फिल्म-शंकर हुसैन [१९७७]गीतकार-कैफ भोपालीसंगीतकार-खय्याममूल गायिका-लता जीप्रस्तुत गीत में स्वर-अल्पना वर्मा-----------------------------------गीत के बोल-अपने आप रातों मेंचि...
clicks 15  Vote 0 Vote  10:01pm 19 Mar 2018

गुरु बिन घोर अंधेरा - रावण हत्था-

रावण हत्था के साथ लोक कलाकार भोपा का गायन साभार: सिद्दार्थ जोशी जी ...
clicks 48  Vote 0 Vote  8:39pm 15 Jan 2018

अपनी आँखों में बसा कर /कवर गीत

फ़िल्म-ठोकर मूल गायक -रफ़ी संगीतकार--श्याम जी घनश्याम जी गीतकार -साजन देहलवी अपनी आँखों में बसाकर कोई इक़रार करूँ जी में आता है कि जी भर के तुझे प...
clicks 51  Vote 0 Vote  6:17pm 21 Nov 2017

Apni Aankhon mein Cover version by Alpana Verma

...
clicks 73  Vote 0 Vote  6:17pm 21 Nov 2017

खिलौनेवाला -सुभद्राकुमारी चौहान

खिलौनेवाला[कविता ] -सुभद्राकुमारी चौहानकविता पाठ:Alpana Verma============================----------------वह देखो माँ आजखिलौनेवाला फिर से आया है।कई तरह के सुंदर-सुंदरनए खिलौने लाया है।हर...
clicks 66  Vote 0 Vote  1:13pm 27 Oct 2017
[ Prev Page ] [ Next Page ]
 
CONTACT US ADVERTISE T&C

Copyright © 2009-2013