अजित गुप्‍ता का कोना

पहाड़ों के बीच बसा अलसीगढ़

#हिन्दी_ब्लागिंगमनुष्य प्रकृति की गोद खोजता है, नन्हा शिशु भी माँ की गोद खोजता है। शिशु को माँ की गोद में जीवन मिलता है, उसे अमृत मिलता है और मिलती है सुरक्...
clicks 1  Vote 0 Vote  9:40am 16 Aug 2017

जीवन्त जीवन ही खिलखिलाता है

#हिन्दा_ब्लागिंगआधा-आधा जीवन जीते हैं हम, आधे-आधे विकसित होते हैं हम और आधे-आधे व्यक्तित्व को लेकर जिन्दगी गुजारते हैं हम। खिलौने का एक हिस्सा एक घर में ब...
clicks 6  Vote 0 Vote  10:43am 15 Aug 2017

दिल इतना बड़ा कीजिये कि दुनिया समा जाये

#हिन्दी_ब्लागिंगमन का दोगलापन देखिये, कभी मन कहता है कि अकेलापन चाहिये और कभी कहता है कि अकेलापन नहीं चाहिये। कभी कहता है कि अकेलापन तो चाहिये लेकिन केवल ...
clicks 28  Vote 0 Vote  10:00am 9 Aug 2017

तुम मेरे साथ हो बस यही मेरा है

#हिन्दी_ब्लागिंगओह! आज मित्रता दिवस है! मित्र याने मीत, अपने मन का गीत। मन रोज भर जाता है, उसे रीतना ही होता है,  लेकिन रीते कैसे? रीतने के लिये कोई मीत तो चा...
clicks 49  Vote 0 Vote  9:47am 6 Aug 2017

तेरे लिये मैं क्या कर सकता हूँ?

#हिन्दी_ब्लागिंगबादल गरज रहे हैं, बरस रहे हैं। नदियां उफन रही हैं, सृष्टि की प्यास बुझा रही हैं। वृक्ष बीज दे रहे हैं और धरती उन्हें अंकुरित कर रही है। प्र...
clicks 32  Vote 0 Vote  10:11am 31 Jul 2017

देखी तेरी चतुराई

#हिन्दी_ब्लागिंगकल राजस्थान के जोधपुर में एक हादसा होते-होते बचा। हवाई-जहाज से पक्षी टकराया, विमान लड़खड़ाया लेकिन पायलेट ने अपनी सूझ-बूझ से स्थिति को स...
clicks 18  Vote 0 Vote  10:19am 29 Jul 2017

गुटर गूं के अतिरिक्त नहीं है जीवन

#हिन्दी_ब्लागिंगमसूरी में देखे थे देवदार के वृक्ष, लम्बे इतने की मानो आकाश को छूने की होड़ लगी हो और गहरे इतने की जमीन तलाशनी पड़े। पेड़ जहाँ उगते हैं, वे व...
clicks 48  Vote 0 Vote  11:11am 25 Jul 2017

पहल करो – खेल तुम्हारा होगा

#हिन्दी_ब्लागिंगआओ आज खेल की ही  बात करें। हम भी अजीब रहे हैं, अपने आप में। कुछ हमारा डिफेक्ट और कुछ हमारी परिस्थितियों का या भाग्य का। हम बस वही करते रहे ...
clicks 10  Vote 0 Vote  10:00am 24 Jul 2017

मैं इस बात से आहत हूँ

#हिन्दी_ब्लागिंग#संजयसिन्हा की एक कहानी पर बात करते हैं। वे लिखते हैं कि मैंने एक बगीचा लगाया, पत्नी बांस के पौधों को  पास-पास रखने के लिये कहती है और बता...
clicks 8  Vote 0 Vote  10:35am 21 Jul 2017

सील के ये थूथन

#हिन्दी_ब्लागिंगएक दृश्य देखा था, बीत गये न जाने कितने ही दिन लेकिन वह दृश्य आज भी मुझे कुछ लिखने को उकसाता है। मैं दिमाग को झटक देती हूँ लेकिन फिर वह सामने...
clicks 5  Vote 0 Vote  9:24am 20 Jul 2017
[ Prev Page ] [ Next Page ]
 
CONTACT US ADVERTISE T&C

Copyright © 2009-2013