नजरिया

दर्द का एहसास...

          मैं एक घर के करीब से गुज़र रहा था, अचानक मुझे उस घर के अंदर से एक बच्चे की रोने की आवाज़ आई । उस बच्चे की आवाज़ में इतना दर्द था कि अंदर जा कर...
clicks 71  Vote 0 Vote  1:14pm 24 Apr 2018

तब और अब में अन्तर ...!

          डाकू मानसिंह कभी चम्बल के बीहड़ों के सरताज हुआ करते थे । उन्होंने 1939 से 1955 तक अपने क्षेत्र में एकछत्र राज्य किया । एक बार आगरा में डकैत...
clicks 47  Vote 0 Vote  3:41pm 15 Apr 2018

समोसे वाला

          चर्चगेट, मुंबई से मेरे घर से काम पर जाने के लिये लोकल ट्रेन की यह रोज़मर्रा की यात्रा थी । मैंने सुबह ६.५० की लोकल पकड़ी थी । ट्रेन मरी...
clicks 39  Vote 0 Vote  6:47pm 10 Apr 2018

खुश रहना इतना आसान है, करके तो देखिए...

सफलता = खुशी           अधिकतर लोग ऐसा ही समझते हैं...लेकिन वो ग़लत हैं...खुशी का विज्ञान हमें बताता है कि सही इसका उलट है...यानिखुशी =  सफलता  ...
clicks 16  Vote 0 Vote  7:40pm 30 Mar 2018

सफलता = खुशी           अधिकतर लोग ऐसा ही समझते हैं...लेकिन वो ग़लत हैं...खुशी का विज्ञान हमें बताता है कि सही इसका उलट है...यानिखुशी =  सफलता  ...
clicks 56  Vote 0 Vote  7:40pm 30 Mar 2018

महिला सुरक्षा - विशेष.

          एक नारी को तब क्या करना चाहिये जब वह देर रात में किसी उँची इमारत की लिफ़्ट में किसी अजनबी के साथ स्वयं को अकेला पाये ?       &nb...
clicks 153  Vote 0 Vote  12:48pm 24 Feb 2017

सरकारी योजनाओं का सच...!

          एक रियल घटना पान की दुकान पर खडे एक 36-37 वर्षीय युवक से बातचीत के कुछ अंश...          मैनें पूछा कुछ कमाते धमाते क्यों नहीं ? ...
clicks 193  Vote 0 Vote  8:35am 14 Feb 2017

अपने हाथ की उंगलियो से अपने बारे में जानिये !

          जैसा कि तस्वीर मे दिखाया गया है उस से आपको हाथ की उंगलियों के नाम पता चल गये होंगे ।सबसे पहले तर्जनी की बात...          अगर ...
clicks 59  Vote 0 Vote  8:06am 11 Feb 2017

अपने हाथ की उंगलियो से अपने बारे जानिये !

          जैसा कि तस्वीर मे दिखाया गया है उस से आपको हाथ की उंगलियों के नाम पता चल गये होंगे ।सबसे पहले तर्जनी की बात...          अगर ...
clicks 127  Vote 0 Vote  8:02am 11 Feb 2017

आने वाला कल...

           सन् 2095 यानि आज से लगभग 79 साल बाद...          रितेश अपने कमरे में चुपचाप गुमसुम सा बैठा है, तभी मम्मी की तरंगे कैच होने लगती ...
clicks 134  Vote 0 Vote  9:26am 8 Feb 2017
[ Prev Page ] [ Next Page ]
 
CONTACT US ADVERTISE T&C

Copyright © 2009-2013